खामोशी Silence

डॉ गौहर राजा, एक भारतीय व्यज्ञानिक हैं जो सरकार पर सवाल उठाने वाली एक कविता के विरोध के बाद कहते हैं–

लो मैंने कलम को धो डाला

लो मेरी ज़बाँ पर ताला है

लो मैंने आँखें बंद कर लीं

लो परचम सारे बांध लिए

नारों को गले में घोंट दिया

एहसास के ताने बाने को

फिर मैंने हवाले दार किया

इस दिल की कसक को मान लिया

एक आखरी बोसा देना है

और अपने लरज़ते हाथों से

खंजर के हवाले करना है

लो मैंने कलम को धो डाला

लो मेरी ज़बाँ पर ताला है

इलज़ाम ये आयद था मुझ पर

हर लफ्ज़ मेरा एक नश्तर है

जो कुछ भी लिखा, जो कुछ भी कहा

वो देश विरोधी बातें थीं

और हुक्म किया था ये सादिर

तहज़ीब के इस गहवारे को

जो मेरी नज़र से देखेगा

वो एक मुलजि़म कहलायेगा

लो मैंने कलम को धो डाला

लो मेरी ज़बाँ पर ताला है

जो इश्क के नगमे गायेगा

जो प्यार की बानी बोलेगा

जो बात कहेगा गीतों में

जो आग बुझाने उट्ठेगा

जो हाथ झटक दे कातिल का

वो एक मुजरिम कहलायेगा

लो मैंने कलम को धो डाला

लो मेरी ज़बाँ पर ताला है

खामोश हूँ मैं सन्नाटा है

क्यों सहमे, सहमे लगते हो

हर एक ज़बाँ पर ताला है

क्यों सहमे, सहमे लगते हो

लो मैंने कलम को धो डाला

लो मेरी ज़बाँ पर ताला है

हाँ सन्नाटे की गूँज सुनो

हैं लफ्ज़ वही, अंदाज़ वही

हर ज़ालिम, जाबिर, हर कातिल

इस सन्नाटे की ज़द पर है

खामोशी को खामोश करो

यह बात तुम्हारे बस में नहीं

खामोशी तो खामोशी है

गर फैल गई तो फैल गई

By Gauhar Raza

Published by Rachana Dhaka

I am a law student, a resilient defender of Human Rights, a nomad who loves to know about different cultures and connect them for the better future of mankind and loves to talk to people through poetry or with some write ups. And best of all i love to motivate people and spread happiness around :)

2 thoughts on “खामोशी Silence

    1. Isko chup rahne ka order mila tha toh ye bol raha hai ki lo ab mai chup hu … ese hi bahut se logo ke saath hota hai jo jurm k khilaf awaz uthate hain especially aurto k saath ,,, to unko chup rahne bola jata hai lekin fir bhi khahi se khamoshi sunayi de jati hai or hum bahr wale og awaz uthate hain … ese samjha maine isko isliye share kiya

      Like

Leave a Reply to Madhusudan Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: